Ucchatar Samanya Manovigyan: Advanced General Psychology

by Arun Kumar Singh


  • ISBN Hardcover: 9788120820814, 8120820819
  • ISBN Paperback: 9788120820821, 8120820827
  • Year of Publication: 2021
  • Edition: 12th Revised Reprint
  • No. of Pages: 1285
  • Language: Hindi
  • Sale price ₹ 1,675.00 Regular price ₹ 1,675.00

    Tax included.

    प्रस्तुत पुस्तक उच्चत्तर सामान्य मनोविज्ञान (advanced General Psychology) छात्रों एवं सहकर्मियों के सुझाव एवं अपने पठन-पाठन की अनुभूतियों पर आधृत है। सामान्य मनोविज्ञान की यह एक ऐसी पुस्तक जो नवीनतम शोधों एवं प्रयोगों के परिणाम के विश्लेषण पर आधारित होने के अलावा एक मुश्त बी० ए० ऑनर्स , एम० ए० के छात्रों की आवश्यकताओं को पूरा करने के साथ ही साथ विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओं जैसे UGC के NET (राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा) , JRF तथा विभिन्न राज्य के राज्यस्तरीय पात्रता परीक्षण (State Level Eligibility Test) के परीक्षाओं के लिए भी उपयोगी है। 

    इस पुस्तक को चौदह अध्यायों में बाँठकर लिखा गया है। प्रत्येक अध्याय में जिन बिन्दुओं पर विचार किया गया है, उनका विश्लेषण काफी सूक्ष्म रूप से एवं गहनतापूर्वक किया गया है। इस सिलसिले में कुछ वरिष्ठ शिक्षकों एवं शोध छात्रों का सुझाव एवं समालोचना उत्तम मार्गदर्शन का काम किया है। इस पुस्तक में 14 अध्याय की विषय सूची निम्न प्रकार से है-

    Ÿविषय-प्रवेश (Introduction) Ÿ न्यूरोमनोविज्ञान : व्यवहार का दैहिक आधार (Neuropsychology : Physiological bases of Behaviour) Ÿ मानव व्यवहार का विकास : आनुवंशिकता तथा वातावरण (Development of Human Behaviour : Heredity and Environment) Ÿ मूल मनोभौतिकी एवं मनोभौतिकी विधियाँ (Basic Psychophysics and Psychophysical Methods) Ÿ प्रत्यक्षण (Perception) Ÿ अवधान (Attention) Ÿ सीखना या अधिगम (Learning) Ÿ स्मृति (Memory) Ÿ चिन्तन, समस्या समाधान व्यवहार, निर्णय-प्रक्रिया तथा संप्रत्यय निर्माण (Thinking, Problem Solving behaviour, Decision Process and Concept Formation) Ÿ अभिप्रेरण एवं तनाव (Motivation and Stress) Ÿ संवेग (Emotion) Ÿ मानव क्षमताएँ : बुद्धि, अभिवृत्ति एवं सर्जनात्मकता (Human Abilities : Intelligence, Aptitude and Creativity) Ÿ व्यक्तित्व (Personality) Ÿ नूतन या आधुनिक प्रवृत्तियाँ (Recent Trends

    प्रो० अरुण कुमार सिंह, एम०ए० (स्वर्णपदक प्राप्त) , पी-एच०डी०, पटना विश्वविद्यालय में “मनोवैज्ञानिक शोध एवं सेवा संस्थान ' के पूर्ववर्ती विभागाध्यक्ष एवं पूर्ववर्ती निदेशक रह चुके हैं।